Counter

  • Unique Visitor:129,684

    APMC home

    एपीएमसी परिचय

    कृषि उत्पाद मंडी समिति ऊना की स्थापना वर्ष 1978 में हिमाचल प्रदेश कृषि उत्पाद मंडी अधिनियम, 1969 (1970 की अधिनियम संख्या 9) के तहत की गई थी। उक्त अधिनियम अब हिमाचल प्रदेश कृषि एवं बागवानी उत्पाद मंडी (विकास एवं नियमन) अधिनियम, 2005 (2005 की अधिनियम संख्या 20) की धारा 86 के जरिये निरसित हो चुका है। कृषि उत्पादों की खरीद-फरोख्त के बेहतर नियमन ओर जिले के उत्पादकों को विपणन और सूचना सुविधाएं प्रदान करने के उद्देश्य के साथ राज्यपाल ने 25 मई, 2005 को इस अधिनियम को मंजूरी दी थी। मंडी समिति के संचालन क्षेत्र के रूप में संपूर्ण ऊना जिला अधिसूचित किया गया है। कृषि मंडी समिति, ऊना ने 25 मई, 1979 को 17 डीलरों के साथ काम करना शुरू किया था, जिनकी संख्या अब बढक़र 305 हो गई है। इस अधिनियम के प्रावधानों के तहत फलों, सब्जियों, खाद्यान्नों एवं दुग्ध उत्पादों के व्यापारी कवर किए जाते हैं। शुरुआत में वर्ष 1979-80 के दौरान एपीएमसी ऊना की आमदनी 23,980 रुपए थी, जो कि वर्ष 2012-13 के दौरान बढक़र 1,21,18,510 रुपए तक पहुंच गई है। समिति अपने कार्यालय और विकास से जुड़े खर्चे अपनी आमदनी से ही पूरे कर रही है।...